Friday, May 14, 2010

बड़े बे-आबरू होके........

ये तो होना ही था... जी हां हम बात कर रहे हैं अपने चैतन्यों की... जो टीम इंडिया की इज़्ज़त सरे बाज़ार लुटा कर आए हैं... और इसका खामियाज़ा महेंद्र सिंह धोनी को भुगतना पड़ सकता है... अब जल्द ही धोनी से भारतीय वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी छिनी जा सकती है... धोनी से नाराज़ BCCI  टी-20 और वनडे में कप्तानी की लगाम सहवाग के हाथ में दे सकती है...
2004 में भारतीय टीम में शामिल होने वाले महेंद्र सिंह धोनी 6 साल से भारतीय क्रिकेट टीम में अपनी अहम भूमीका निभा रहे हैं... कैप्टन कूल के ख़िताब से नवाज़े गए धोनी ने 2007 में भारत को टी-20 वर्ल्ड कप का ख़िताब दिलाया... लेकिन वक्त के शिकंजे ने धोनी को सवालों के घेरे में जकड़ लिया है... ऐसे में धोनी की कप्तानी पर सवाल उठना लाज़मी है... टी-20 वर्ल्ड कप में ख़राब प्रदर्शन के बाद BCCI  के पास धोनी को कप्तानी से हटाने की ठोस वजह भी है... टीम इंडिया की हार का पोस्टमार्टम शुरू हो गया है... टी-20 वर्ल्डकप में भारतीय टीम एक भी सुपर 8 मुकाबला नहीं जीत पाई है...
टीम के कोच गैरी कर्स्टन का कहना है कि हार की वजह खिलाड़ियों का ग़लत चयन है... टीम में 3 खिलाड़ी ऐसे थे जो टी-20 समेंत किसी भी फॉरमेट के लिए फिट नहीं थे...
वहीं टी-20 से बाहर होने की वजह से प्रशंसकों के निशाने पर आई भारतीय टीम के फ़ेवर ख़ुद भगवान यनी सचिन तेंदुलकर उतर आए... सचिन ने मीडिया से टीम का बचाव करते हुए कहा कि टीम ने पूरी कोशिश की लेकिन ऐसा हो जाता है... कि कोशिशों के बावजूद हम जीत दर्ज नहीं कर पाते... बेशक IPL का ग्लैमर हमारे क्रिकेटरों के लिए नुकसान देह साबित हुआ... ये साफ़ नज़र आ रहा है... टी-20 वर्ल्डकप में टीम के प्रदर्शन में... IPL में लेट नाइट पार्टीज़ में खिलाड़ियों की मौजूदगी से परफारमेंस पर ख़ास असर पड़ा है...जबकि ऐसी पार्टियों में क्रिकेटरों की मौजूदगी ज़रूरी नहीं है... खिलाड़ी चाहे तो पार्टी अटेंड नहीं करे या नही...
टीम इंडिया की हार से दुखी प्रशंसक ने सेंट लूसिया में गेंदबाज आशीष नेहरा के साथ मारपीट करते हुए उनकी टी शर्ट फाड़ दी... और बाद में युवराज सिंह ने मामले पर लीपा-पोती करते हुए ट्विटर पर सफ़ाई दी कि नेहरा के साथ किसी भी तरह की मारपीट नहीं हुई...
टीम इंडिया 5 मैच में 2 मैच जीती और सुपर 8 के 3 मैच हार गई... शेर की तरह दहाड़ने वाली टीम इंडिया कैरिबियाई पिचों पर भीगी बिल्ली बन गई और इनकी हवा निकल गई... इसकी वजह बना धोनी का ओवर कॉन्फ़िडेंस, आईपीएल में फ़ॉरमेट चुनी गई टीम, युवराज, गौतम गंभीर, युसूफ पठान का मौक़े पर धोखा देना... हरभजन, ज़हीर और नेहरा का थर्ड क्लॉस प्रदर्शन, IPL की पार्टियों से हुई थकान...लेट नाइट पार्टियों की वजह से टीम को हार का मुंह देखना पड़ा...जहां क्रिकेटर साल में 9 महिने होने वाले मैचों के अलावा घंटों मैदान में पसीना बहाते... वहीं IPL की टीम 14 से 16 पार्टियों में शामिल होती है... सवाल ये है कि क्यों ये पार्टियां सालभर की मेहनत पर भारी पड़ी... क्रिकेटरों की नाइट पर्टियों में फैशन परेड, सेक्सी लेडी विथ डांस फ़्लोर पर खिलाड़ियों का थिरकना... जमकर शराब पीना और टल्ली होना, भारी भोजन सुबह तक मस्ती करने का नतीजा अगले दिन साफ़ नज़र आता है...जिसमें खिलाड़ियों का प्रैक्टिक्स से दूर भागना, और दूसरे शहर में खेलने के लिए थकन भरी जर्नी... वजन बढ़ना, फिटनेस घटना... तो बात वही घूम फिर कर आती है कि ये तो होना ही था....

No comments:

Post a Comment