Friday, June 25, 2010

महंगाई बनाम सरकार

देश में मंहगाई का मीटर लगातार हाई होता जा रहा है...पहले से ही मंहगाई की मार झेल रही जनता को सरकार ने एक बार फ़िर मंहगाई बढ़ाकर ख़ौफ़ज़दा कर दिया है... यूपीए सरकार ने एक झटके में ही पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम बढ़ाकर आम जनता की जेब पर अपना नश्तरी वार कर दिया हैं... सरकार का पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतें बढ़ाना किसी को भी रास नहीं आ रहा है... खुद सरकार के मंत्री से लेकर विपक्ष तक इस फैसले से नाराज़ हैं... और आम आदमी बेबस होकर अपनी बर्बादी का तमाशा देख रहा है... राजनीतिक दल भी जनता की बेबसी पर सियासत की रोटी सेकने में लगे हुए है... पूरे देश में कोहराम मचा रही मंहगाई के लिए भाजपा सड़क पर उतर आई है...वहीं रेल मंत्नी ममता बनर्जी ने पेट्रोलियम उत्पादों में हुई बढ़होतरी पर सख्त नाराज़गी जताते हुए इसे आम आदमी पर बोझ बताया है...
बहरहाल रसोई गैस कीमत 310.25 रुपए से बढ़कर 345.25 रुपए का हो गई है... केन्द्र सरकार ने इससे पहले जून 2008 में रसोई गैस की कीमतों में 40 रुपए प्रति सिलेंडर की वृद्धि की थी...लेकिन विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र दिल्ली सरकार का मंहगाई पर पलटवार हुआ...और रसोई गैस की बढ़ी कीमतों की भरपाई के लिए सब्सिडी दी गई थी... वजह थी वोट बैंक की राजनीति...
पहले से कमरतोड़ मंहगाई झेल रही जनता को सरकार की तरफ़ से एक झटका तब लगा जब ईजीओएम ने पेट्रोल कीमतों को डीरेगुलेट करने के फैसले पर मुहर लगा दी है... जिसके बाद पेट्रोल-डीजल समेत केरोसीन और एलपीजी सिलेंडर भी महंगा हो गया है...
अपना ऐब छुपाते हुए सरकार ने तेल कंपनियों के घाटे के बोझ को जनता पर लादने के इरादे से तेल कीमतों को बाजार के हवाले कर दिया है... जिसके बाद पेट्रोल 3.7 रुपये, केरोसीन 3 रुपये और एलपीजी सिलेंडर 35 रुपये महंगा हो गया है...तेल कंपनियां काफी समय पेट्रोल-डीजल की कीमतों को बढ़ाने के लिए सरकार पर दबाव डाल रही थी... क्योंकि कंपनियों को 115 करोड़ रुपये का घाटा हर दिन हो रहा था... कीमतें बढ़ाने के बाद भी 53,000 करोड़ का घाटा होगा...
सरकार के इस फैसले के बाद सभी सरकारी तेल कंपनियों के शेयरों में बढ़त देखी जा रही है.... पहले ही महंगाई की आंच में झुलस रहे निम्न मध्यम और गरीब तबके को इनकी कीमतों में बढ़ोतरी से चोट पहुंची है....
हमारे देश में ऐसे भी हर चीज़ के दाम बढ़कर बताने का रिवाज रहा है... लेकिन इस बार तो हद हो गई... हाल ही में सरकार ने रसोई गैस सिलेंडर में 25 रुपए की वृद्धि कर दी थी... और दुबार फ़िर से मंहगाई...
यूपीए सरकार की इस हरकत को देखकर लगता है कि... पिक्चर तो अभी बाक़ी है... मंहगाई नाम की फ़िल्म बना रही यूपीए सरकार अभी तो अपना प्रोमो चला रही है...कॉमनवेल्थ गेम्स् के बाद ही मंहगाई पूरी तरह से रिलीज़ की जाएगी...

No comments:

Post a Comment