Thursday, June 2, 2011

बाबा का 5 स्टार सत्याग्रह


लक्ज़री सुविधाओं से लैस सत्याग्रह
पंडाल के अंदर AC, ICU, 5000 पंखे
2000 वर्ग फिट का मंच
1 लाख स्क्वॉयर फिट का तंबू
पानी के पुख़्ता इंतज़ाम
सुरक्षा व्यवस्था चौकस 
लक्ज़री सुविधाओं से लैस बाबा राम देव के सत्याग्रह में हर ऐशों अराम की चीज़ मौजूद है...बाबा के सत्याग्रह की तैयारी तकरीबन 80 प्रतिशत पूरी हो चुकी है...रामलीला मैदान को पूरी तरह से घर जैसा बनाने की कोशिश की गई है...


बाबा के सत्याग्रह के पंडाल में पानी का इंतज़ाम सबसे अच्छा किया गया है...पूरे मैदान में पाईप का जाल बिछाया दिया गया है...रामलीला मैदान में इतने नल लगाए गए हैं...जिसका अंदाज़ा लगाना मुश्किल है...लेकिन इंतज़ामियां इसकी संख्या तकरीबन 1 हज़ार बता रहे है...इसके अलावा पानी की टंकियों का भी इंतज़ाम है...
सात्याग्रह के लिए बनाये गए वॉटर प्रूफ पंडाल में 5000  फंखे और एसी लगाऐ गए हैं...इसके अलावा पंडाल में स्वास्थय के मद्देनज़र दो आईसीयू की सुविधा है...एक–एक आईसीयू में 50 मरीज़ों के बेड का इंतज़ाम किया गया है...मंच के पीछे चार ऐसे एयर कंडीशन कमरे बनाए गए है जहां तबियत बिगड़ने पर थोड़ी देर के लिए अनशन पर बैठे लोग आराम कर सकें...शिविर में 1200 टोलेट का भी इंतज़ाम किया गया है...
अष्टांग योग शिविर के नाम से 4 जून से शुरू हो रहे बाबा के सत्याग्रह की सुरक्षा के पुख़्ता इंतज़ाम किए गए है...छावनी में तब्दील रामलीला मैदान में सरकारी सुरक्षा बल के साथ-साथ बाबा के निजी भारत स्वाभीन ट्रस्ट के 500 सुरक्षाकर्मी भी रामलीला मैदान में तैनात हैं...जो रामदेव की आंतरिक सुरक्षा करेंगे...इसके अलावा लोगों की सुविधा के लिए पूछताछ केंद्र, मीडीया केंद्र बनाए गए हैं...  
सत्याग्रह की सारी कहानी बाबा के योग शिविर के आड़ में अंजाम दी जा रही है...मतलब साफ़ है कि बाबा सत्याग्रह में जंतर मंतर पर बैठेंगे और बीच-बीच में हालचाल लेने रामलीला मैदान आते रहेगे...यानी बाबा सरकार पर एक तीर से दो निशाना साधने की फिराक़ में है...

3 comments:

  1. jai
    ho sant
    baba ramdev
    veeron ke
    veer
    ek kaman
    do teer
    neta apnen
    mahelon main
    khate alu
    paneer
    aur kheer
    bechara
    garib
    sadiyonse
    pairon main
    zanjeer
    badan se
    behta khoon
    ankhon
    se behta
    neer
    kismet
    par lakir
    yeh hain
    bharat desh
    ke fakir

    ReplyDelete
  2. wah wah wah ...........very nice

    ReplyDelete